English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-03-02 105202

यूक्रेन संकट पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पहले स्टेट ऑफ यूनियन को संबोधित करते यूक्रेन संकट को लेकर रूस को जमकर घेरा।

जो बाइडेन  ने कहा कि रूस ने बहुत बड़ी गलती कर दी। उन्होंने कहा कि पुतिन ने सोचा कि NATO और पश्चिमी देश रूस के हमले का जवाब नहीं देंगे लेकिन ऐसा नहीं है। उन्हें इसका खामियाजा भुगतना होगा। बाइडेन ने कहा कि रूस ने यूक्रेन को कमजोर समझने की गलती कर दी, जबकि ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि बेशक हमारी सेना युद्ध में हिस्सा नहीं लेगी लेकिन हम यूक्रेन की मदद करते रहेंगे।

जो बाइडेन के संबोधन की बड़ी बातें:

  1. रूस को कीमत चुकानी पड़ेगी: बाइडेन ने कहा कि अमेरिका यूक्रेन के साथ खड़ा है। अमेरिका और हमारे सहयोगी सामूहिक शक्ति के साथ नाटो क्षेत्र के हर इंच की रक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि यूक्रेनियन साहस के साथ लड़ रहे हैं। पुतिन को युद्ध के मैदान में फायदा हो सकता है, लेकिन उन्हें लंबे समय तक इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी।
  2. रूसी उड़ानों के लिए अमेरिकी हवाई क्षेत्र बंद: स्टेट ऑफ द यूनियन संबोधन के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि हम सभी रूसी उड़ानों के लिए अमेरिकी हवाई क्षेत्र को बंद करने में अपने सहयोगियों के साथ शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था ने पिछले साल अमेरिका में 6.5 मिलियन से अधिक नए रोज़गार सृजित किए। एक साल में पहले से कहीं अधिक नौकरियां सृजित हुईं।
  3. पुतिन को बताया तानाशाह: जो बाइडेन ने रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन को तानाशाह बताते हुए कहा कि इतिहास गवाह है, तानाशाहों को उनके आक्रमणों की कीमत चुकानी पड़ी है। उन्होंने कहा कि जब इतिहास लिखा जाएगा तो यूक्रेन के खिलाफ छेड़ी गई जंग के लिए रूस को कमजोर दुनिया के अन्य देशों को ताकतवर माना जाएगा।
  4. अलग-थलग हुआ रूस: जो बाइडेन ने कहा कि पुतिन की अगुवाई में रूस इस वक्त दुनिया से बिल्कुल अलग-थलग पड़ चुका है, शायद इतिहास में आजतक कोई देश ऐसी स्थिति में नहीं पहुंचा। उन्होंने बताया कि यूरोपियन यूनियन में करीब 27 देश यूक्रेन के साथ खड़े हैं।
  5. यूक्रेन की एक-एक इंच की रक्षा करेंगे: जो बाइडेन ने यूक्रेन की तारीफ करते हुए कहा कि यूक्रेनियन पूरी ताकत और साहस से रूस के हर हमले का जवाब दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि इस युद्ध के मैदान में पुतिन आगे दिखाई दे रहे हो लेकिन यह तय है कि उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी।
  6. कसी जा रही है नकेल: अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हम यूरोपियन यूनियन के साथ मिलकर काम कर रहे हैं और अपने सहयोगियों के साथ मिलकर रूस में शामन करने वाले लोगों की नकेल कस रहे हैं। उनके लग्जरी अपार्टमेंट, नाव और प्राइवेट जेट को जब्त किया जा रहा है।
  7. कोविड टेस्ट टू ट्रीट: जो बाइडेन ने कहा कि हम कोविड टेस्ट टू ट्रीट पहल शुरू कर रहे हैं ताकि लोग किसी फार्मेसी में टेस्ट करवा सकें और यदि वे पॉजिटिव हैं तो बिना किसी लागत के एंटीवायरल दवा मौके पर ही प्राप्त कर सकते हैं।
Also read:  कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर आज PM मोदी करेंगे बैठक, सभी राज्यों के मुख्यमंत्री होंगे शामिल