English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-03-05 105319

अंतर्राष्ट्रीय जिम्नास्टिक महासंघ (एफआईजी) ने घोषणा की है कि सोमवार से रूसी और बेलारूसी एथलीटों और न्यायाधीशों सहित अधिकारियों को एफआईजी प्रतियोगिताओं या एफआईजी – स्वीकृत प्रतियोगिताओं में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

निर्णय का अर्थ है कि उन दो महासंघों के उन एथलीटों और अधिकारियों को 10-13 मार्च तक अजरबैजान के बाकू में एक्रोबैटिक जिम्नास्टिक विश्व चैंपियनशिप में भाग लेने से रोक दिया गया है।

शनिवार को, एफआईजी ने घोषणा की थी कि रूसी और बेलारूसी राष्ट्रीय ध्वज प्रदर्शित नहीं किए जाएंगे और दोनों देशों के राष्‍ट्रीय गान किसी भी एफआईजी-स्वीकृत कार्यक्रम में नहीं बजाए जाएंगे। एफआईजी ने संगठन की वेबसाइट पर एक बयान में कहा, “एफआईजी इस बात पर जोर देना चाहता है कि इन असाधारण और आपातकालीन उपायों को उपर्युक्त असाधारण परिस्थितियों के मद्देनजर तय और जारी किया गया है।” बयान में कहा, “वे जिमनास्टिक की अखंडता, सदस्यों और सभी एथलीटों और प्रतिभागियों की सुरक्षा और अखंडता को बनाए रखने और सभी प्रकार की हिंसा और खेल अन्याय के खिलाफ लड़ने के उद्देश्य से निवारक उपायों का गठन करते हैं।”

Also read:  भगवंत मान ने राज्यपाल से की मुलाकात, सरकार बनाने का किया दावा

बयान के अनुसार, “रूसी और बेलारूसी नागरिक जो एफआईजी कार्यकारी समिति या एफआईजी तकनीकी समितियों के सदस्य हैं, वे एफआईजी अधिकारियों के रूप में अपनी क्षमता में कार्य करते समय इस उपाय से प्रभावित नहीं होते हैं।” एफआईजी ने कहा, “ईसी स्थिति की बारीकी से निगरानी करना जारी रखेगा और भविष्य के विकास के अनुसार इन असाधारण उपायों को और अनुकूलित कर सकता है।”