English മലയാളം

Blog

सनराइजर्स हैदराबाद को लगातार चार जीत के बाद रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा। आईपीएल 2020 के दूसरे क्वालीफायर मुकाबले में हैदराबाद को उसकी गलतियों का खामियाजा भुगतना पड़ा। हार की वजह से टूर्नामेंट से बाहर होने पर कप्तान डेविड वार्नर निराश दिखे। उन्होंने कहा कि आईपीएल में अपने अभियान पर गर्व है लेकिन दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ दूसरे क्वालीफायर में टीम के क्षेत्ररक्षण को देखकर उन्होंने स्वीकार किया कि इस तरह के लचर प्रदर्शन से वे टूर्नामेंट जीतने के हकदार नहीं थे।

Also read:  पीवी सिंधु रिटायर नहीं हो रहीं:ट्वीट में पहले लिखा- I RETIRE, फिर लिखा- खेल से नहीं, निगेटिविटी और थकान से

वार्नर ने सनराइजर्स की 17 रन से हार के बाद कहा, ‘अगर आप कैच छोड़ते हो और मौके गंवाते हो तो फिर जीत हासिल नहीं कर सकते हो। मुझे लगता है कि गेंदबाजी और बल्लेबाजी में खराब शुरुआत के बाद हमने वापसी की लेकिन क्षेत्ररक्षण में हमारा रवैया हार का कारण बना।’

वार्नर ने हालांकि आईपीएल में अपने अभियान पर संतोष व्यक्त किया और कहा कि तीसरे स्थान पर रहना उनकी टीम के लिए गर्व की बात है क्योंकि किसी ने भी यह अनुमान नहीं लगाया था कि उनकी टीम यहां तक पहुंचेगी।

Also read:  ISL: वाल्सकिस का डबल, जमशेदपुर एफसी ने एटीके मोहन बागान को 2-1 से हराया

उन्होंने कहा, ‘पहली बात तो यह है कि हमें शुरू में किसी ने दावेदार नहीं बताया था। हर कोई मुंबई इंडियंस, दिल्ली और आरसीबी की बात कर रहा था। मुझे अपने अभियान पर वास्तव में गर्व है। चोटें भी मसला रही लेकिन आपको इसके साथ आगे बढ़ना होता है। आज हम जहां हैं उस पर मुझे गर्व है।’

Also read:  अर्जुन तेंदुलकर ने किया सीनियर मुंबई टीम के लिए करियर का आगाज

बता दें कि दिल्ली के दोनों सलामी बल्लेबाजों मार्कस स्टोइनिस और शिखर धवन के कैच छूटे जबकि कुछ आसान रन भी दिए गए। दिल्ली ने इसका फायदा उठाकर तीन विकेट पर 189 रन बनाए। इसके जवाब में सनराइजर्स आठ विकेट पर 172 रन ही बना पाया।