English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-01-13 130127

मंत्री के स्वागत के लिए तिरुपति हवाईअड्डे पर गए अभिनय रेड्डी को नहीं मिला था प्रवेश। रेड्डी ने कथित तौर पर हवाईअड्डे की पानी की आपूर्ति काट दी। करूणाकर और अभिनय रेड्डी राज्य में सत्ताधारी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेता हैं।

 

तिरुपति हवाईअड्डे में प्रवेश की अनुमति न मिलने के बाद आंध्र प्रदेश के विधायक बी. करूणाकर के बेटे अभिनय रेड्डी ने कथित तौर पर हवाईअड्डे की पानी की आपूर्ति काट दी।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, अभिनय रेड्डी और रेनिगुंटा हवाईअड्डे के मैनेजर सुनील के बीच प्रवेश को लेकर विवाद हो गया था जिसके बाद तिरुपति हवाईअड्डे और कर्मचारियों के रिहायशी क्वार्टर की पानी की आपूर्ति बाधित हो गई।

Also read:  केंद्र का कृषि कानून बनाम पंजाब के 3 कृषि बिल, CM अमरिंदर बोले- 'मैं इस्तीफे से नहीं डरता'

फिलहाल, हवाईअड्डा प्रशासन ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। वहीं, नगर निगम ने दावा किया कि पाइप लाइन में रुकावट के कारण पानी की आपूर्ति बाधित हुई है।

बता दें कि, करूणाकर और अभिनय रेड्डी राज्य में सत्ताधारी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के नेता हैं। तिरुपति का रेनिगुंटा हवाईअड्डा भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण (एएआई) द्वारा संचालित एक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा है।

Also read:  हरिद्वार धर्म संसद में हेट स्पीट का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा, सुप्रीम कोर्ट याचिका पर सुनवाई को तैयार

अभिनय रेड्डी इस सप्ताह की शुरुआत में आंध्र प्रदेश के मंत्री बोत्सा सत्यनारायण के स्वागत के लिए हवाईअड्डे गए थे। हवाईअड्डे में उनके प्रवेश को लेकर अधिकारियों के साथ तीखी नोकझोंक हुई।

बोत्सा सत्यनारायण राष्ट्रीय स्तर की कबड्डी प्रतियोगिता के समापन समारोह में भाग लेने के लिए तिरुपति का दौरा कर रहे थे। उनके साथ तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) के अध्यक्ष वाईवी सुब्बा रेड्डी भी थे। अभिनय रेड्डी बोत्सा सत्यनारायण और सुब्बा रेड्डी की अगवानी करने एयरपोर्ट गए थे।

Also read:  रिहाना के ट्वीट के खिलाफ भारतीय सेलेब्रिटीज़ के ट्वीट्स की जांच करेगी महाराष्ट्र सरकार

विपक्षी नेता और तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के महासचिव नारा लोकेश ने ट्विटर पर एक पोस्ट में अभिनय रेड्डी की आलोचना करते हुए कहा कि हवाईअड्डे और स्टाफ क्वार्टर में पानी की आपूर्ति का बंद होना वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अराजक शासन का एक नमूना है। मैं इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं।