English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

देश के कुछ राज्यों में कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के चलते दिल्ली सरकार अलर्ट हो गई है. सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि देश के पांच राज्यों से दिल्ली आने वाले लोगों के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया जाएगा. सूत्रों ने बताया है कि महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और पंजाब से दिल्ली आने वाले लोगों को नेगेटिव RT-PCR दिखाने पर ही दिल्ली में एंट्री मिलेगी.

Also read:  फिल्‍म निर्देशक अनुराग कश्‍यप और एक्‍टर तापसी पन्‍नू से पुणे के एक होटल में आयकर विभाग की टीम पूछताछ कर रही है:सूत्र

बता दें कि बीते एक हफ्ते में जो नए कोरोना मामले आए हैं उसमें 86% इन्हीं पांच राज्यों से हैं, जिसके बाद दिल्ली सरकार ने यह फैसला किया है. इस फैसले को लेकर औपचारिक आदेश आज जारी होगा.

इन पांच राज्यों के नोडल अफसरों से कहा जाएगा कि वह अपने यहां से दिल्ली जा रहे लोगों की 72 घंटे तक पुरानी निगेटिव RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट सुनिश्चित करें उसके बाद ही दिल्ली की तरफ आने दें.

Also read:  सुरक्षाबलों ने लद्दाख में पकड़ा चीनी सैनिक, अनजाने में भारतीय सीमा में घुसा हो सकता है : ANI

यह आदेश 26 फरवरी शुक्रवार की आधी रात से लेकर 15 मार्च दोपहर 12:00 बजे तक लागू रहेगा. बता दें कि आदेश फ्लाइट, ट्रेन और बस से दिल्ली आने वाले यात्रियों पर लागू होगा जबकि कार से दिल्ली आने वाले यात्री इससे बाहर रहेंगे.

बता दें कि पिछले एक हफ्ते में देश के कई राज्यों में कोरोना के मामले बढ़े हैं. खासकर, महाराष्ट्र के कई जिलों में कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़े हैं. वहां अमरावती और यवतमाल में लॉकडाउन भी लगाया गया है. पिछले हफ्ते एक ऐसी रिपोर्ट भी आई थी कि महाराष्ट्र में वायरस के अलग वेरिएंट्स मिले हैं, हालांकि, अभी और सीक्वेंसिंग की जरूरत है, ऐसे में इसे कोई नया स्ट्रेन नहीं कहा जा सकता है.

Also read:  COVID-19 भारत: पहली बार मामले में मृत्यु दर में 1.5% तक की गिरावट