English മലയാളം

Blog

IPL 2020 CSK Vs RR: राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) ने आईपीएल 2020 (IPL 2020) के 37वें मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) को 7 विकेट से हरा दिया. राजस्थान की जीत में जहां गेंदबाजों ने कमाल की गेंदबाजी की और सीएसके को 20 ओवर में केवल 125 रन ही बनाने दिए तो वहीं दूसरी ओर बल्लेबाजी में जोस बटलर (Jos Buttler) ने मुश्किल समय में जुझारू बल्लेबाजी कर अर्धशतकीय पारी खेलकर टीम को जीत दिला दी. बटलर (Jos Buttler) 70 रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने अपने आईपीएल करियर का 11वां अर्धशतक जमाया. जोस बटलर आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स की टीम की तरफ से सबसे ज्यादा अर्धशतक जमाने वाले तीसरे बल्लेबाज बन गए हैं. राजस्थान की ओर से बटलर ने आईपीएल में 10वां अर्धशतक जमाया है. आईपीएल में राजस्थान की ओर से सबसे ज्यादा अर्धशतक जमाने का रिकॉर्ड रहाणे के नाम है

Also read:  IPL: अस्पताल में क्रिस गेल की मस्ती देख युवराज सिंह से रहा नहीं गया, बोले- काका...'

रहाणे ने राजस्थान की ओर से 17 अर्धशतक तो वहीं शेन वॉट्सन ने 14 अर्धशतक लगाए हैं. संजू सैमसन आईपीएल में राजस्थान की ओर से 9 अर्धशतक जमाने वाले बल्लेबाज हैं. बटलर और स्मिथ ने चौथे विकेट के लिए 98 रन की नाबाद साझेदारी कर राजस्थान को शानदार जीत दिला दी. इस जीत के साथ ही राजस्थान को थोड़ी राहत मिली, प्वाइंट्स टेबल (IPL 2020 Points Table) में राजस्थान हालांकि आखिरी पायदान पर ही है लेकिन सीएसके के लिए प्लेऑफ की रेस मुश्किल हो गई है. राजस्थान से मिली हार के बाद चेन्नई 7वें पायदान पर है. सीएसके के हारने से पंजाब को फायदा पहुंचा है और छठे नंबर पर पहुंच गई है.

Also read:  IPL 2020: पिता चलाते थे ऑटो, अब IPL में रचा इतिहास, Shah Rukh Khan की टीम की ऐसे निकाली हवा

बता दें जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) की घातक गेंदबाजी ने चेन्नई को केवल 125 रन पर ही रोक दिया. आर्चर ने 4 ओवर में 20 रन देकर 1 विकेट लिए तो वहीं कार्तिक त्यागी, श्रेयस गोपाल और राहुल तेवतिया 1-1 विकेट लेने में सफल रहे. चेन्नई सुपरकिंग्स का कोई भी बल्लेबाज जमकर बल्लेबाजी नहीं कर सका. रविंद जडेजा ने 30 गेंद पर 35 रन तो वहीं एम एस धोनी (MS Dhoni) ने 28 गेंद पर 28 रन की पारी खेली. सीएसके के बल्लेबाजों ने काफी स्लो बल्लेबाजी की, यही कारण रहा कि 20 ओवर में टीम 125 रन ही बना सकी.

हार के बाद सीएसके कप्तान MS Dhoni काफी निराश दिखे और उन्होंने कहा, हम लाखों लोगों के सामने खेलते हैं इसलिए छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है,  हम कुछ चीजें आजमा रहे हैं, जिसे आप आप काटना और बदलना नहीं चाहते हैं। असुरक्षा वह चीज है जिसे आप ड्रेसिंग रूम में नहीं रखना चाहते हैं. इस सीजन में हम वास्तव में अच्छा नहीं रहे.  लेकिन इस परिणाम ने युवाओं को बाकी टूर्नामेंट में मौका देने का रास्ता खोल दिया है.