English മലയാളം

Blog

दुबई: 

युवा प्रियम गर्ग (Priyam Garg) और अभिषेक शर्मा (Abhishek Sharma)की उम्दा बल्लेबाजी के बाद राशिद खान की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के मैच में शुक्रवार को तीन बार की चैम्पियन चेन्नई सुपरकिंग्स (CSK vs SRH)को सात रन से हरा दिया. अपना पहला आईपीएल खेल रहे अब्दुल समद ने आईपीएल में सबसे ज्यादा 194 मैच खेलने का रिकार्ड आज ही अपने नाम करने वाले महेंद्र सिंह धोनी को आखिरी ओवर मे खुलकर खेलने नहीं दिया. जीत के लिये 165 रन के लक्ष्य के जवाब में चेन्नई पांच विकेट पर 157 रन ही बना सकी. सनराइजर्स की अच्छी गेंदबाजी और चुस्त क्षेत्ररक्षण के अलावा भीषण गर्मी का भी असर धोनी एंड कंपनी पर नजर आ रहा था. आखिरी ओवरों में बड़े शॉट खेलकर वर्ल्‍डकप 2011 फाइनल समेत कई मौकों पर भारतीय टीम को जीत दिला चुके धोनी गर्मी से परेशान नजर आये.

Also read:  पीवी सिंधु रिटायर नहीं हो रहीं:ट्वीट में पहले लिखा- I RETIRE, फिर लिखा- खेल से नहीं, निगेटिविटी और थकान से

उन्होंने शीर्षक्रम के नाकाम रहने के बाद रवींद्र जडेजा के साथ पांचवें विकेट के लिये 72 रन जोड़कर टीम को जीत की दहलीज तक ले जाने की कोशिश की लेकिन आखिर में चूक गए. आखिरी दो ओवर में चेन्नई को 44 रन चाहिये थे. 19वें ओवर की पहली गेंद पर यार्कर डालने के बाद भुवनेश्वर कुमार की मांसपेशी में खिंचाव आ गया. खलील अहमद ने वह ओवर पूरा किया जिसमें धोनी ने एक छक्का भी जड़ा. आखिरी ओवर समाद में डाला जिसमें चेन्नई को 28 रन चाहिये थे. पहली ही गेंद वाइड रही जिस पर चार रन भी निकल गए. दूसरी गेंद पर धोनी ने चौका लगाया लेकिन अगली तीन गेंदें बेहतरीन रही. आखिरी गेंद पर सैम कुरेन ने छक्का जड़ा लेकिन मैच तब तक हाथ से निकल चुका था. पिछले मैच में मैन आफ द मैच रहे राशिद ने चार ओवर में सिर्फ 12 रन दिये.

Also read:  IPL 2008 में बॉल बॉय रहे तुषार देशपांडे ने दिल्ली के लिए किया डेब्यू, पहले ही मैच में स्टोक्स को आउट कर किया कमाल

इससे पहले प्रियम और अभिषेक ने सनराइजर्स को शुरूआती झटकों से निकालकर पांच विकेट पर 164 रन तक पहुंचाया. शीर्षक्रम के नाकाम रहने के बाद गर्ग ने नाबाद 51 और अभिषेक ने 31 रन बनाकर पांचवें विकेट के लिये 77 रन की साझेदारी की. सनराइजर्स ने आखिरी चार ओवर में 53 रन जोड़े.आखिरी ओवरों में चेन्नई के ढीले क्षेत्ररक्षण का भी सनराइजर्स को फायदा मिला. चेन्नई ने अभिषेक को दो बार जीवनदान दिया. शुरूआती मैचों में जूझती नजर आई तीन बार की चैम्पियन चेन्नई की टीम में अंबाती रायुडू , ड्वेन ब्रावो और शारदुल ठाकुर को इस मैच में जगह दी गई. चेन्नई ने पिछला मैच एक सप्ताह पहले खेला था और ब्रेक के बाद उसके गेंदबाज काफी तरोताजा नजर आये. दीपक चाहर ने 31 रन देकर दो विकेट लिये जबकि सैम कुरेन ने भी उम्दा गेंदबाजी की. चाहर ने बेहतरीन इनस्विंगर पर जॉनी बेयरस्टॉ (0) को पवेलियन भेजा. मनीष पांडे (29) फार्म में लग रहे थे और कई अच्छे शॉट्स भी उन्होंने लगाये.डेविड वार्नर और पांडे ने पावरप्ले में 42 रन बनाये. ओवर निकलते देख वार्नर ने ऊंचे शॉट लगाने की कोशिश की लेकिन फाफ डु प्लेसी को कैच दे बैठे. वहीं केन विलियमसन अगली गेंद पर गर्ग के साथ तालमेल नहीं बैठने पर रन आउट हो गए. इसके बाद टीम को संकट से निकालने की जिम्मेदारी युवा खिलाड़ियों पर आ गई जिन्होंने निराश नहीं किया. भारतीय जूनियर टीम के कप्तान गर्ग ने अपनी प्रतिभा की बानगी पेश की और अभिषेक ने भी जबर्दस्त खेल दिखाया. गर्ग ने 26 गेंद में छह चौकों और एक छक्के के साथ 51 रन बनाये जबकि अभिषेक ने 24 गेंद में 31 रन बनाये जिसमें चार चौके और एक छक्का शामिल था.

Also read:  IPL 2020: दिल्ली और RCB के लिए जीत जरूरी, ऐसी हो सकती है दोनों की संभावित एकादस