English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

JEE Main 2021: शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने जेईई मेन परीक्षा (JEE Main 2021) की तारीखों की घोषणा कर दी है. संयुक्त प्रवेश परीक्षा जेईई मुख्य 2021 को लगातार चार सत्रों में आयोजित किया जाएगा. बता दें कि इसके अलावा भी इस साल इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन में कई नए बदलाव किय गए हैं. नए परिवर्तनों में अधिक क्षेत्रीय भाषाओं के साथ एक नए जेईई मेन 2021 परीक्षा पैटर्न की शुरुआत की गई है. आइए आपको बताते हैं जेईई मेन 2021 में कौन से बदलाव किए गए हैं.

Also read:  उत्तराखंड: आज से खुलेंगे कॉलेज, बाहरी छात्रों को लानी होगी कोरोना की जांच रिपोर्ट

4 सत्रों में होगी परीक्षा
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) इस साल जेईई मेन 2021 (JEE Main 2021) की परीक्षा साल में 4 बार यानी 4 सत्रों में आयोजित करेगी. जेईई मेन 2021 की परीक्षा  फरवरी, मार्च , अप्रैल और मई में आयोजित की जाएगी. फरवरी सत्र की परीक्षा 23 फरवरी से 26 फरवरी तक आयोजित होगी, जिसके लिए आवेदन की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है.

Also read:  UPSC: जियो-साइंटिस्ट परीक्षा 2021 से Geologist और Geophysicist पद को हटाया गया, ये है वजह

नया एग्जाम पैटर्न
इस साल जेईई मेन 2021 परीक्षा के पैटर्न में भी बदलाव किए गए हैं. जेईई मेन बीटेक के पेपर में 90 प्रश्न होंगे. प्रत्येक सेक्शन में फिजिक्स, केमिस्ट्री, और मैथ्स को ए और बी सेक्शन में डिवाइड किया जाएगा. सेक्शन ए में नेगेटिव मार्किंग के साथ 20 अनिवार्य प्रश्न होंगे, लेकिन सेक्शन बी में 10 प्रश्न वैकल्पिक होंगे. सेक्शन बी में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी.

Also read:  NEET Result 2020 Declared: नीट परीक्षा का रिजल्ट हुआ जारी, डायरेक्ट लिंक से करें चेक

JEE Main 2021 परीक्षा 13 भाषाओं में होगी
पहली बार JEE Main 2021 परीक्षा 13 भाषाओं में आयोजित की जाएगी. परीक्षा अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, मलयालम, ओडिया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और उर्दू भाषा में होगी.