English മലയാളം

Blog

राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। वहीं, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के कोरोना की तीसरी लहर की चपेट में होने की जानकारी दी, जिसके बाद राजधानी में एक बार लॉकडाउन लगने की चर्चाएं आम हो चली हैं। हालांकि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से लेकर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और खुद स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने किसी भी हालत में लॉकडाउन न लगने की बात कही। लेकिन इन तीनों ने ही दिल्ली के बाजार एक बार फिर बंद होने की जानकारी दी है। इस रिपोर्ट में जानते हैं कि अगर कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बाजार बंद हुए तो कौन-कौन से बाजार इस लिस्ट में शामिल हो सकते हैं?

Also read:  NCP प्रमुख शरद पवार का दावा- 'असम को छोड़ हर राज्य में हारेगी BJP'

1. लक्ष्मी नगर का मंगल बाजार: पूर्वी दिल्ली के सबसे बड़े बाजारों की बात हो तो मंगल बाजार इस लिस्ट में जरूर शुमार होता है। पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर, शाहदरा, सीलमपुर, आनंद विहार समेत तमाम इलाकों के लोगों की जरूरतें मंगल बाजार से ही पूरी होती हैं। अगर बाजारों में लॉकडाउन लगा तो उस लिस्ट में मंगल बाजार शामिल हो सकता है।
2. करोल बाग: शादी की खरीदारी करनी हो या नॉर्मल विंडो शॉपिंग। हर मामले में करोल बाग की मार्केट हिट है। यहां मेन बाजार में वाहनों की एंट्री बंद होने के बावजूद पैदल चलना आसान नहीं होता। कोरोना काल में भी यह बाजार खचाखच भरा नजर आया। वहीं, अब शादियों का सीजन शुरू होने के बाद करोल बाग में भीड़ काफी बढ़ गई है। ऐसे में इस बाजार में भी लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

Also read:  बिहार : बेटे के साथ जा रही महिला का सामूहिक बलात्कार, विरोध करने पर 5 साल के मासूम की ली जान

3. सरोजिनी नगर: दिल्ली के हॉट शॉपिंग डेस्टिनेशनंस की बात करें तो उसमें सरोजिनी नगर मार्केट का नाम भी लिया जाता है। यहां भी रोजाना सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को टूटते हुए देखा जा सकता है। ऐसे में लॉकडाउन लगने की स्थिति में सरोजिनी नगर मार्केट को बंद किया जा सकता है।

4. चांदनी चौक और सदर बाजार: पुरानी दिल्ली के ये दोनों बड़े बाजार पूरी दिल्ली की लाइफलाइन कहे जाते हैं। यहां तक कि देश के बाकी शहरों में भी यहीं से माल भेजा जाता है। दरअसल, रोजाना जरूरत के हर सामान की थोक मंडी इन दोनों बाजारों में हैं। ऐसे में अगर दिल्ली के बाजार बंद किए गए तो लॉकडाउन की लिस्ट में चांदनी चौक और सदर बाजार का नाम आना तय है।

Also read:  कर्नाटक सेक्स सीडी कांड के लपेटे में आए मंत्री ने दिया इस्तीफा

5. बाजारों में लागू हो सकता है ऑड-ईवन: सूत्रों की मानें तो दिल्ली सरकार कोरोना संक्रमण रोकने के लिए बाजारों में ऑड-ईवन भी लागू कर सकती है। इसके तहत कुछ दुकानों को एक दिन और बाकी दुकानों को दूसरे दिन खोला जा सकता है। इसके अलावा दुकानों को कैटिगरी के हिसाब से भी खोलने की तैयारी की जा सकती है। जैसे कपड़ों की दुकानें सोमवार को, बर्तनों की दुकानें मंगलवार को और बाकी दुकानें भी इसी तरह अलग-अलग दिन खोली जा सकती हैं।