English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-01-25 113246

UP Poll 2022: अमित शाह आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के प्रचार अभियान की देखरेख का काम सौंपा गया है. शाह 2014, 2019 के लोकसभा चुनाव और 2017 विधानसभा चुनावों में शानदार जीत के मुख्य सूत्रधार थे।

UP Assembly Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अब एक महीने से भी कम समय रह गया है.

सूत्रों से जानकारी मिली है कि 26 जनवरी के के बाद मैदान में बीजेपी के तमाम बड़े नेता चुनावी मैदान में उतरेंगे। अमित शाह (Amit Shah) ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कैराना से पिछले हफ्ते अपना घर – घर चुनाव प्रचार अभियान शुरू कर दिया था। सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि कैराना के बाद अब अमित शाह मथुरा जाएंगे।  27 जनवरी को अमित शाह मथुरा (Mathura) और गौतम बुद्धनगर (Noida) रहेंगे। वहीं केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ( Rajnath Singh ) 27 जनवरी को बागपत और गाजियाबाद रहेंगे।

Also read:  बजट से पहले शेयर बाजार में 700 अंकों की उछाल

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 22 जनवरी को कैराना ( Kairana ) गए थे। वहां उन्होंने 2017 से पहले हिंदुओं के कथित ‘पलायन ‘ के मुद्दे का जिक्र किया था। उन्होंने कहा था कि कैराना के लोग अब डर में नहीं रह रहे हैं। कानून व्यवस्था की संतोषजनक स्थिति विकास की प्राथमिक शर्त है और योगी आदित्यनाथ सरकार ने उत्तर प्रदेश में इसे सुनिश्चित किया है।

कड़ाके की ठंड के बीच बारिश से भीगी गलियों में शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के साथ घर – घर प्रचार किया था। इस दौरान उनके साथ कैराना से बीजेपी उम्मीदवारत् मृगांका सिंह , गन्ना मंत्री सुरेश राणा व सांसद प्रदीप चौधरी भी मौजूद थे। शाह के साथ जो बीजेपी कार्यकर्ता थे उन्होंने भगवा टोपी पहन रखी थी और भाजपा का चुनाव चिन्ह लिया हुआ था। शाह ने इस दौरान लोगों को बीजेपी सरकार की उपलब्धियों का उल्लेख करते हुए पर्चे बांटे। शाह ने घर – घर जाकर लोगों से आगामी 10 फरवरी को बीजेपी के पक्ष में मतदान करने की अपील की थी।

Also read:  शेयर बाजार में आई तेजी, सेंसेक्स 526 और निफ्टी में 161 अंकों की बढ़त के साथ खुला

यूपी में 300 सीट जीतने का दावा

विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में शाह का यह पहला राजनीतिक कार्यक्रम था। शाह ने कहा कि 2014 के बाद वह पहली बार कैराना आए हैं। उन्होंने कोविड के कारण घर – घर जाकर संपर्क किया. उन्होंने विश्वास जताया कि बीजेपी 403 सदस्यीय उत्तर प्रदेश विधानसभा में 300 सीटें जीतेगी. उन्होंने सड़कों , हवाई अड्डों और चिकित्सा कॉलेजों के निर्माण और गरीबों के लिए रसोई गैस का प्रावधान , शौचालय , कोविड के दौरान मुफ्त टीके और मुफ्त राशन सहित सरकार की विभिन्न उपलब्धियों को गिनाया।

Also read:  अरुणाचल प्रदेश : भाजपा ने दिया नीतीश को बड़ा झटका, जदयू के छह विधायकों को तोड़ा

शाह को फिर से आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के प्रचार अभियान की देखरेख का काम सौंपा गया है , क्योंकि ऐसा समझा जाता है कि उन्हें राज्य में जाति समीकरण की अच्छी समझ है और व्यक्तिगत रूप से सभी निर्वाचन क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं के साथ समन्वय है. अमित शाह 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों और राज्य में 2017 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी की शानदार जीत के मुख्य सूत्रधार थे. उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए सात चरणों में मतदान 10 फरवरी से शुरू होगा।