English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-07-23 101651

 मौसम विभाग ने कुछ राज्यों में अगले तीन से चार दिनों में भारी बारिश का अनुमान लगाया है। अगर आप इन राज्यों और शहरों में रहते हैं तो आपको भारी बारिश से निपटने के लिए तैयार रहना चाहिए।

बीते 24 घंटे के भीतर देश के उत्तर-पश्चिम और उत्तरपूर्वी हिस्से के कई राज्यों में भारी बारिश हुई है। जबकि मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले तीन से चार दिनों में इन राज्यों में भारी बारिश जारी रहेगी। राजस्थान, ओडिशा और मध्य भारत के कुछ राज्यों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है।

यहां होगी भारी बारिश

 

मौसम विभाग ने अपने बुलेटिन में अनुमान लगाया है कि आने वाले दिनों में जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब और चंडीगढ़ में भारी बारिश हो सकती है। दिल्ली में तो पूरे दिन बादल छाए रहेंगे। शाम 5 बजे के बाद बारिश की भी संभावना है। इसके बाद रात 8 से 9 के बीच भी बारिश हो सकती है।

Also read:  ओमीक्रॉन को लेकर डरावनी स्टडी, ओमीक्रॉन वैरिएंट का डेल्टा से खतरनाक परिणाम

हरियाणा और पंजाब में पिछले दो सप्ताह में मानसून गतिविधियों में तेजी आने के कारण दोनों राज्यों के अधिकतर हिस्सों में एक जून से 22 जुलाई के बीच अधिक बारिश हुई है। देश की कुल वार्षिक बारिश की करीब 70 फीसदी बारिश मानसून में होती है और देश के करीब 60 प्रतिशत बुआई क्षेत्र सिंचाई के लिए इसी पर निर्भर करता है। भारत की लगभग आधी आबादी प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से कृषि पर निर्भर है। मौसम विभाग के अनुसार, दोनों राज्यों के अधिकांश जिलों में मानसून की शुरुआत होने के बाद एक जून और 22 जुलाई के बीच सामान्य से अधिक बारिश हुई है।

Also read:  दिल्ली में कोरोना के अब तक के सबसे ज्यादा 7,745 नए मामले आए सामने

गुजरात और महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी

गुजरात के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश ने जनजीवन ठप कर दिया है। निचले इलाकों के हजारों निवासियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। तापी जिले में तापी नदी पर बने उकाई बांध से भारी मात्रा में पानी छोड़ा गया। गुजरात, कोंकण, गोवा और मध्य महाराष्ट्र में 23 व 24 जुलाई को कही कहीं भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। गुजरात में कुछ जगहों पर 23 और 24 जुलाई को बहुत ही तेज बारिश का पूर्वानुमान है। मध्यप्रदेश में बारिश होने को लेकर मौसम का हाल बताने वाली संस्था स्काईमेट ने एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के अनुसार चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पश्चिम मध्य प्रदेश और आसपास के क्षेत्र पर बना हुआ है। मानसून ट्रफ अब गंगानगर, हिसार, दिल्ली, लखनऊ, वाराणसी, हजारीबाग, बांकुरा, कोलकाता से होते हुए पूर्व दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर जा रही है।

महाराष्ट्र और गुजरात में भारी बारिश की वजह

महाराष्ट्र और गुजरात में 23 और 24 जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। क्योंकि मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में बताया है कि उत्तरी पाकिस्तान और उससे सटे इलाकों में एक पश्चिमी विक्षोभ चक्रवाती सर्कुलेशन के रूप में बन गया है। उधर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और राजस्थान में 24 जुलाई तक इसी तरह झमाझम बारिश का दौर चलेगा। मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 23 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी दी है।