English മലയാളം

Blog

अमेरिका की इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली दुनिया के दूसरे सबसे अमीर और दिग्गज कारोबारी एलन मस्क की कंपनी की लंबे इंतजार के बाद भारत में एंट्री हो गई है। टेस्ला यहां लग्जरी इलेक्ट्रिक कारों का निर्माण और कारोबार करेगी। उसने आधिकारिक रूप से टेस्ला इंडिया मोटर्स ऐंड एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड के नाम से बंगलुरु में पंजीकरण कराया है। कंपनी का कार्यालय बंगलुरु क्लब के सामने रिचमंड सर्कल जंक्शन पर स्थित है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने टेस्ला का स्वागत किया है। कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय के अनुसार, टेस्ला ने 8 जनवरी को 1.5 करोड़ की पूंजी के साथ बेंगलुरु में पंजीकृत किया है। इसका रजिस्ट्रेशन नंबर 142975 है। वैभव तनेजा, वेंकटरंगम श्रीराम और डेविड जॉन फेंस्टीन इसके निदेशक हैं। तनेजा टेस्ला में सीएफओ  हैं, जबकि फेंस्टीन टेस्ला में ग्लोबल सीनियर डायरेक्टर, ट्रेड मार्केट एक्सेस हैं। कंपनी भारत में मॉडल तीन को लॉन्च कर सकती है। साल की पहली तिमाही के अंत में डिलीवरी शुरू हो सकती है।

Also read:  वित्त मंत्री ने पेश किया आर्थिक सर्वेक्षण, अगले वित्त वर्ष में GDP में 11 फीसदी वृद्धि का अनुमान

गडकरी ने किया स्वागत

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कर्नाटक ग्रीन मोबिलिटी की ओर भारत की यात्रा का नेतृत्व करेगा। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक व्हीकल निर्माता टेस्ला जल्द ही भारत के बंगलुरु  में एक रिसर्च एंड डेवलपमेंट यूनिट के साथ अपना परिचालन शुरू करेगी। मैं एलन मस्क का भारत में स्वागत करता हूं।

एलन मस्क ने ट्विटर पर किया था ऐलान

बता दें कि भारत में टेस्ला के आने की चर्चा पिछले साल से जोरों पर थी। टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने अक्तूबर में एक ट्वीट में कहा था कि उनकी कंपनी 2021 में भारतीय बाजार में प्रवेश करेगी। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी इसकी पुष्टि करते हुए कहा था कि टेस्ला अगले साल भारत में अपना कामकाज शुरू करेगी। उन्होंने कहा था कि भारत में अगले पांच साल में दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक वाहन उत्पादक बनने की क्षमता है।

Also read:  ब्रिटेन में बेकाबू हुआ कोरोना का नया स्ट्रेन, सऊदी अरब ने निलंबित कीं अंतरराष्ट्रीय उड़ानें

2020 में 36 प्रतिशत बढ़ी टेस्ला की बिक्री

टेस्ला की वार्षिक बिक्री में 2020 में 36 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। हालांकि, कंपनी पांच लाख वाहनों की डिलीवरी के वार्षिक लक्ष्य से पीछे रह गई। कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि उसने 2020 में 499,500 वाहनों की डिलिवरी की। इनमें अक्तूबर से दिसंबर के दौरान 180,570 स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) और सेडान की डिलिवरी शामिल है। टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एलन मस्क ने कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप शुरू होने से पहले 2020 में पांच लाख वाहनों की डिलिवरी का लक्ष्य रखा था।

Also read:  नरेंद्र मोदी और भूटान के पीएम ने किया दूसरे चरण के RuPay कार्ड का शुभारंभ

चंद रोज ही टिका दुनिया के सबसे अमीर होने का ताज

टेस्ला के सीईओ एलन मस्क पिछले हफ्ते गुरुवार को दुनिया के सबसे अमीर शख्स बन गए थे। उन्होंने एमेजॉन के जेफ बेजॉस को पीछे छोड़ दिया था। एलन मस्क की नेटवर्थ बढ़कर 188 बिलियन यूएस डॉलर से अधिक हो गई, जो कि एमेजॉन के संस्थापक जेफ बेजॉस की नेटवर्थ 187 बिलियन यूएस डॉलर से एक बिलियन डॉलर ज्यादा है। ऐसा टेस्ला के शेयर प्राइस में निरंतर वृद्धि के चलते हुआ। हालांकि दुनिया के सबसे अमीर होने का ताज एलन मस्क के सिर पर कुछ ही दिन रहा। इसके बाद जेफ बेजॉस फिर से दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए।