English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-08-28 105034

 भारत के स्‍टार जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने रविवार को हंगरी के बुडापेस्‍ट में वर्ल्‍ड एथलेटिक्‍स चैंपियनशिप्‍स में गोल्‍ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो फाइनल में 88.17 मीटर की दूरी का थ्रो फेंका और गोल्‍ड अपने नाम किया।

नीरज चोपड़ा वर्ल्‍ड एथलेटिक्‍स चैंपियनशिप्‍स में गोल्‍ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय एथलीट बने। हालांकि, नीरज चोपड़ा अपने इस थ्रो से पूरी तरह संतुष्‍ट नजर नहीं आए। उन्‍होंने नया लक्ष्‍य बनाया है। नीरज चोपड़ा ने 90 मीटर को अपना अगला लक्ष्‍य बताया है

Also read:  क्रिकेट पंडितों और पूर्व खिलाड़ियों ने अपने 4 सेमीफाइनलिस्ट चुन लिए, भारत, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल की तीन बड़ी टीमें होंगी

नीरज चोपड़ा ने क्‍या कहा

नीरज चोपड़ा ने इवेंट के बाद कहा कि यही मेडल उनके लिए जीतना बचा था। उन्‍होंने जोर दिया कि 90 मीटर का मार्क हासिल करना बचा है। चोपड़ा ने कहा, ”हर कोई कह रहा है कि यही मेडल जीतने के लिए बचा है। अब 90 मीटर का आंकड़ा है, जिसे हासिल करना बचा है। आज मुझे लगा था कि मैं 90 मीटर का आंकड़ा पार कर लूंगा, लेकिन गोल्‍ड ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण था। अभी और प्रतियोगिताएं आना है और मैं अपना सर्वश्रेष्‍ठ देने की कोशिश करूंगा।”

Also read:  13 साल हत्या कर फरार हुआ आरोपी, दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने किया गिरफ्तार

चोपड़ा एकमात्र ऐसे भारतीय एथलीट

नीरज चोपड़ा ने कहा कि वो खुद को फिट रखने व आगामी इवेंट में सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन देने पर ध्‍यान दे रहे हैं। चोपड़ा एकमात्र भारतीय एथलीट बने, जिन्‍होंने वर्ल्‍ड चैंपियनशिप्‍स 2023 में कई मेडल जीते हैं और वो गोल्‍ड मेडल जीतने वाले इकलौते हैं।

चोपड़ा ने कहा, ”मैं खुद का ज्‍यादा ध्‍यान रख रहा था। मैं महसूस कर पा रहा था कि अपनी स्‍पीड में 100 प्रतिशत नहीं हूं और जब मेरी स्‍पीड अच्‍छी नहीं होगी तो मुश्किल होगी। मैं खुद को फिट रखने पर ध्‍यान दे रहा हूं। मेरी कोशिश अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करने की है।”

Also read:  नाना ने देश को तोड़ दिया, अब राहुल देश को जोड़ेंगे- हेमंत बिस्वा सरमा

फैंस का किया शुक्रिया

नीरज चोपड़ा ने भारतीय फैंस का शुक्रिया अदा किया, जिन्‍होंने देर रात तक जागकर उनका इवेंट देखा। चोपड़ा ने कहा कि यह मेडल सभी फैंस के लिए है। 25 साल के चोपड़ा ने कहा, ”मैं सभी फैंस का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, जिन्‍होंने देर रात तक जागकर मेरा इवेंट देखा। यह मेडल उन सभी के लिए है।”