English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने 1971 के भारत-पाक युद्ध (1971 India-Pakistan War) के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की है. इस मौके पर उनके साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defense Minister Rajnath Singh) मौजूद थे. रक्षा मंत्री ने ही नेशनल वॉर मेमोरियल (National War Memorial) पर उनकी अगवानी की. चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) बिपिन रावत और सेना के तीनों अंगों के प्रमुख भी वहां मौजूद थे. सभी ने 1971 के युद्ध के शहीदों को श्रद्धांजलि दी. पीएम ने वर्ष 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के 50 साल पूरा होने के अवसर पर बुधवार को राजधानी दिल्ली स्थित राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की अमर ज्योति पर ‘‘स्‍वर्णिम विजय मशाल” प्रज्‍वलित भी की.

रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि राष्‍ट्रीय युद्ध-स्‍मारक पर लगातार जलती रहने वाली ज्‍योति से प्रज्वलित इन चार विजय मशालों को  1971 के युद्ध के परमवीर चक्र और महावीर चक्र विजेताओं के गांवों सहित देश के विभिन्‍न भागों में ले जाया जाएगा.बयान के मुताबिक, ‘‘इन विजेताओं के गांवों के साथ-साथ 1971 के युद्ध स्‍थलों की मिट्टी को नई दिल्‍ली के राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक में लाया जाएगा.” मालूम हो कि 16 दिसंबर भारत में विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है. इसी दिन पाकिस्तान के खिलाफ 1971 में भारत को जीत मिली थी और एक देश के रूप में बांग्लादेश अस्तित्व में आया था.

Also read:  UP: हाथरस के बाद गोंडा में हैवानियत, तीन दलित नाबालिग बहनों पर फेंका गया तेज़ाब