English മലയാളം

Blog

Screenshot 2023-06-02 120511

राजस्थान की सियासत और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के फैसले इन दिनों चर्चा में बने हुए हैं।

100 यूनिट टेक फ्री बिजली की घोषणा करके गहलोत ने चुनावी साल में मास्टरस्ट्रोक चला है। इसके साथ ही वह चुनावों के ऐलान से पहले अपने प्रशासनिक व्यवस्थाओं को भी मथना चाह रहे हैं, इसके लिए वह लगातार आईएएस और आईपीएस अधिकारियों के तबादले कर रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने शुक्रवार को 7 IAS और 30 IPS अधिकारियों के तबादले कर दिए। 

राजीव शर्मा को  मिली DG (कानून व व्यवस्था) की जिम्मेदारी 

राज्‍य के कार्मिक विभाग के आदेश के अनुसार आईपीएस अधिकारी राजीव शर्मा को पुलिस महानिदेशक (कानून व व्यवस्था) पद पर तैनात किया गया है अभी तक वह राजस्थान पुलिस अकादमी के निदेशक थे। वहीं आईएएस काना राम को निदेशक (माध्‍यमिक शिक्षा, बीकानेर) नियुक्त किया गया है। उच्‍च शिक्षा विभाग में संयुक्त शासन सचिव एमएल चौहान को उदयपुर में अतिरिक्त महानिदेशक (लोक प्रशासन संस्थान-रीपा) पद पर भेजा गया है। पदस्थापन की प्रतीक्षा कर रहे आईएएस गौरव अग्रवाल को आयुक्त (कृषि व पंचायती राज) पद पर नियुक्त किया गया है।

Also read:  कांग्रेस में दिखी अंदरूनी कलह, मनीष तिवारी ने कहा-कांग्रेस में हिस्सेदार हैं हम, पार्टी नहीं छोड़ेंगे...

अजमेर व भरतपुर पुलिस रेंज के आईजी बदले 

इसी तरह आईपीएस अधिकारियों के तबादलों के तहत जंगा श्रीनिवास का नया पद महानिदेशक (प्रशिक्षण, कम्युनिटी पुलिसिंग व मानवाधिकार) होगा। आईपीएस रवि प्रकाश मेहरड़ा को महानिदेशक (साइबर अपराध व तकनीकी सेवाएं) नियुक्त किया गया है। साथ ही अजमेर व भरतपुर पुलिस रेंज के महानिरीक्षक (आईजी) बदले गए हैं। इस फेरबदल के तहत जिन स्थानों के जिला पुलिस अधीक्षक बदले गए हैं उनमें भिवाड़ी, उदयपुर, करौली, झुंझुनू, जालौर, भरतपुर, जैसलमेर, सिरोही शामिल हैं।