English മലയാളം

Blog

मुरैना: 

मुरैना जिला के दो गांवों में जहरीली शराब (Toxic Liquor) ने कहर बरपा दिया है. दोनों गांवों में शराब पीने से दो सगे भाईयों व उनके चाचा सहित 10 लोग काल के गाल में समा गए. वहीं गंभीर हालत में दो लोगों को ग्वालियर भेजा गया है. फिलहाल छह बीमार लोगों का इलाज मुरैना चिकित्सालय में किया जा रहा है. घटना बागचीनी थाना के मानपुर पृथ्वी गांव और सुमावली थाना के पहावली गांव की है.

Also read:  '' यह पीएम मोदी जी की जीत है ": बिहार चुनाव नतीजों पर चिराग पासवान

मुरैना के मानपुर पृथ्वी गांव में दो दिन पहले ही लोग जहरीली शराब के सेवन करने के बाद से अचेत हो रहे थे, जिनमें से एक की मृत्यु उसके पिछले दिन होने पर आनन-फानन में अंतिम संस्कार कर दिया गया लेकिन बीती देर शाम लोगों की हालात अधिक खराब होने पर जिला चिकित्सालय लाया गया, जिनमें दो ब्रेन डेड हो चुके थे. इस गांव से ग्वालियर इलाज को भेजे गए दो बीमार में से एक की मौत हो गई, वहीं एक का शव गांव में ही पड़ा हुआ था. इस गांव के 5 लोगों की मौत देर रात तक हो चुकी थी.

Also read:  GST मुआवजा : नरम पड़ा केंद्र, वित्त मंत्री ने राज्यों को चिट्ठी लिखकर बताया- लेंगे 1.1 लाख करोड़ का उधार

जिला के सुमावली थाना क्षेत्र के पहावली गांव में तीन लोगों- दो सगे भाई और उनके चाचा- ने एक साथ शराब का सेवन किया. कुछ देर में हालात खराब होने पर इन्हें मुरैना लाया गया, जहां उनकी हालत गंभीर होने पर ग्वालियर भेजा गया. इलाज के दोरान मुरैना व ग्वालियर में तीनों की मोत हो गई. इनमें बंटी गुर्जर का शव मुरैना और उसके भाई जितेंद्र व चाचा रामनिवास का शव ग्वालियर पीएम हाउस में रखा गया था. मंगलवार को उनका पोस्टमार्टम कराया जाना है.