English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-02-10 100202

 सात चरणों में होने वाले उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव के तहत पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश व ब्रज के 11 जिलों की 58 सीटों के लिए आज वोटिंग हो रही है।

 

कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतदान सुबह सात से शाम छह बजे तक होगा। पहले चरण के चुनाव में 2.28 करोड़ मतदाता 623 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। इनमें 73 महिला प्रत्याशी शामिल हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी, अजय कुमार शुक्ला ने बताया मतदान की अवधि में सभी बीएलओ मतदाता सूची के साथ हेल्प डेस्क पर उपस्थित रहेंगे। यह आने वाले मतदाताओं की सहायता करेंगे। मैं मीडिया के माध्यम से सभी मतदाताओं से अपील करता हूं कि आप अपने मताधिकार का प्रयोग जरूर करें।

Also read:  श्मशान बाबा जिसने हरिशंकर तिवारी के बाद बेटे विनय शंकर से भी छिनी विधायकी

यहां मतदान होगा: शामली, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, हापुड़, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा और आगरा। सबसे ज्यादा 15-15 उम्मीदवार मुजफ्फरनगर और मथुरा सीटों पर हैं। सबसे कम पांच प्रत्याशी अलीगढ़ की इगलास (सुरक्षित) सीट पर हैं।

इन दिग्गजों की परीक्षा : पहले चरण में योगी सरकार के नौ मंत्रियों की भी परीक्षा होगी। इनमें चीनी उद्योग एवं गन्ना मंत्री सुरेश राणा, पशुधन मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिल देव अग्रवाल, स्वास्थ्य राज्यमंत्री अतुल गर्ग, वित्त एवं चिकित्सा शिक्षा राज्य मंत्री संदीप सिह, समाज कल्याण राज्य मंत्री जीएस धर्मेश, वन राज्य मंत्री अनिल शर्मा और जलशक्ति व बाढ़ नियंत्रण राज्य मंत्री दिनेश खटीक शामिल हैं।

Also read:  साजिद खान के खिलाफ आवाज़ उठाने पर स्वाति को मिली धमकी, घर पर हमला

सुरक्षा के व्यापक इंतजाम

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि भयमुक्त और निष्पक्ष मतदान के लिए सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। दिव्यांगों की सुविधा के लिए सभी मतदान केंद्रों पर व्हील चेयर की भी व्यवस्था की गई है। पहले चरण में 10853 मतदान केंद्रों के 26027 मतदेय स्थलों (पोलिग बूथ) पर वोट डाले जाएंगे। पहले चरण में 467 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 139 पिक पोलिग बूथ भी बने हैं इनमें सभी कर्मी महिलाएं होंगी। 61 पीडब्ल्यूडी पोलिग बूथ भी बनाए गए हैं। इनमें दिव्यांगजन मतदान कर सकेंगे।

देख सकेंगे किसे डाला वोट

इस बार मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने किसे वोट दिया यह भी देख सकेंगे। चुनाव आयोग ने सभी मतदान बूथों पर ईवीएम के साथ “वोटर वेरिफाइड पेपर आडिट ट्रेल” (वीवीपैट) भी लगाया है। इसके जरिए मतदाता देख सकेंगे कि उन्होंने जिस प्रत्याशी को वोट दिया है उसी की पर्ची निकलेगी।

Also read:  सुप्रीम कोर्ट से हरियाणा सरकार को राहत, प्राइवेट सेक्टर की नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षित रखने के कानून पर हाईकोर्ट की रोक सुप्रीम कोर्ट ने हटाई

50 प्रतिशत पोलिंग बूथों की वेबकास्टिंग

स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए चुनाव आयोग 50 प्रतिशत पोलिंग बूथों की वेबकास्टिंग करा रहा है। यानी इन केंद्रों पर वेबकास्टिग के जरिए सीधी नजर रखी जा सकेगी। पोलिग बूथों पर वेबकास्टिग के जरिए जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी व भारत निर्वाचन आयोग तीनों स्तर से निगरानी की जाएगी।

पहला चरण : एक नजर में

कुल मतदाता : 2.28 करोड़

पुरुष मतदाता : 1.24 करोड़

महिला मतदाता : 1.04 करोड़

थर्ड जेंडर मतदाता : 1,448

कुल प्रत्याशी : 623

महिला प्रत्याशी : 73