English മലയാളം

Blog

Amit-Shah-11

उत्तराखंड चुनाव (Uttarakhand Election) के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपने स्टार प्रचारकों को मैदान में उतार दिया है और अब पीएम मोदी के बाद केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) 11 फरवरी को दोपहर हल्द्वानी के रामलीला मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। अभी तक अमित शाह यूपी के चुनाव प्रचार में व्यस्त थे।

लेकिन राज्य में 14 फरवरी को होने वाले मतदान से पहले वह चुनाव प्रचार की कमान संभालेंगे। वहीं बीजेपी ने भी गृहमंत्री की रैली को सफल बनाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है।

वहीं रैली को सफल बनाने के लिए जिले भर से पार्टी कार्यकर्ता हल्द्वानी पहुंचेंगे और अमित शाह हल्द्वानी में पार्टी प्रत्याशी योगेंद्र सिंह रौतेला के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे। जानकारी के मुताबिक बीजेपी ने अमित शाह की रैली को अन्य जिलों में प्रचारित करने की तैयारी की है और आसपास के विधानसभा के लोग भी वर्चुअल माध्यम से रैली से जुड़ेंगे। बीजेपी बुधवार से शहरी क्षेत्र में लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों से अपील की जाएगी कि वे 11 फरवरी को हल्द्वानी रामलीला मैदान में गृह मंत्री शाह की रैली में पहुंचें। इससे पहले अमित शाह राज्य के कई जिलों में चुनाव प्रचार कर चुके हैं। जबकि पीएम मोदी दिसंबर में हल्द्वानी और देहरादून में चुनाव प्रचार कर चुके हैं।

Also read:  सऊदी अरब ने बढ़ाई हरमाइन रेल यात्रा, एक दिन में होगी 16 यात्रा

पीएम मोदी भी करेंगे चुनाव प्रचार

वहीं राज्य में पीएम मोदी तीन दिन चुनाव प्रचार करेंगे। जबकि पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा राज्य में लगातार चुनाव प्रचार करे रहे हैं। इसके साथ ही बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री राज्य में चुनाव प्रचार कर रहे हैं। मध्य प्रदेश सीएम शिवराज सिंह चौहान चार दिनों से राज्य में डेरा डाले हुए हैं। वहीं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ 12 फरवरी को खटीमा, कोटद्वार और रूड़की में चुनाव प्रचार करेंगे।इसके साथ ही राज्य में असम के सीएम हिमंता विस्वा सरमा के भी प्रचार करने की चर्चा है।

Also read:  दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जैश के दो संदिग्ध आतंकियों को किया गिरफ्तारक

बागी बढ़ा रहे हैं मुश्किलें

वहीं चुनाव के बीच बागी बीजेपी के प्रत्याशियों की मुश्किलें बढ़ा रहे हैं। राज्य में बीजेपी के करीब एक दर्जन से ज्यादा बागी प्रत्याशी मैदान में है। हालांकि बीजेपी का दावा है कि उन्हें मना लिया जाएगा और बीजेपी की जीत होगी।