English മലയാളം

Blog

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए चेन्नई की चेपॉक की पिच एक बार फिर से घातक साबित हुई। पहले टेस्ट की दूसरी पारी में बेन स्टोक्स की गेंद पर बोल्ड होने वाले विराट की दूसरे टेस्ट की पहली पारी में भी गिल्लियां बिखर गईं। इस बार उन्हें इंग्लैंड के स्पिनर मोईन अली ने पूरी तरह से चकमा दिया।

मोईन अली की गेंद पर शून्य पर आउट होने के साथ ही विराट कोहली के नाम एक अनचाहा रिकॉर्ड भी जुड़ गया। इस सीरीज से पहले विराट कोहली जनवरी 2018 के बाद से टेस्ट मैच में कभी बोल्ड नहीं हुए थे। लेकिन अब वे लगातार दो टेस्ट मैचों में बोल्ड हुए हैं। ये कोहली के करियर में पहली बार है जब वे टेस्ट मैच की लगातार दो पारियों में क्लीन बोल्ड हुए हैं।

Also read:  अर्जुन तेंदुलकर ने किया सीनियर मुंबई टीम के लिए करियर का आगाज

विराट कोहली को दूसरे टेस्ट की पहली पारी में इंग्लैंड के मोईन अली ने शून्य पर क्लीन बोल्ड किया। यह पहली बार हुआ जब कोहली को टेस्ट क्रिकेट में किसी स्पिनर ने 0 पर आउट किया।

Also read:  AUSvIND: भारतीय गेंदबाजों के नाम रहा पहला दिन, अजिंक्य रहाणे की कप्तानी की तारीफ

कप्तान कोहली अपने टेस्ट करियर में 11वीं जबकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 26वीं बार शून्य पर आउट हुए हैं। विराट बतौर कप्तान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शून्य पर आउट होने के मामले में महेंद्र सिंह धोनी (11) से आगे निकल गए हैं। हालांकि इस मामले में अभी भी सौरव गांगुली (13) शीर्ष पर हैं।

Also read:  IPL 2008 में बॉल बॉय रहे तुषार देशपांडे ने दिल्ली के लिए किया डेब्यू, पहले ही मैच में स्टोक्स को आउट कर किया कमाल

मोईन अली से पहले विराट को घरेलू टेस्ट मैच में श्रीलंका के तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल, ऑस्ट्रेलिया के मिचेल स्टार्क और बांग्लादेश के अबू जायेद ने शून्य पर आउट किया था।