English മലയാളം

Blog

हाथरस/लखनऊ: 

हाथरस गैंगरेप के मुख्य आरोपी संदीप ठाकुर ने उत्तर प्रदेश पुलिस को एक चिट्ठी लिखकर दावा किया है उसे और बाकी तीन आरोपियों को इस केस में फंसाया जा रहा है. उसने उल्टा पीड़िता की मां और भाई पर ही उसे प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. उसने चिट्ठी में सभी ‘आरोपियों के लिए न्याय’ की मांग की है. 14 सितंबर को हाथरस के एक गांव में कथित रूप से गैंगरेप और प्रताड़ना की शिकार हुई 20 साल की पीड़िता की दिल्ली के एक अस्पताल में मौत हो गई थी. इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. हालांकि, हर रोज इस केस में नए मोड़ सामने आ रहे हैं.

Also read:  अराजक तत्वों ने हाथरस के पीड़ित परिवार को झूठ बोलने के लिए दिया 50 लाख रुपये का लालच : पुलिस

यह चिट्ठी तब सामने आई है, जब पुलिस ने दावे किए हैं कि उसे कुछ ऐसे सबूत मिले हैं कि पीड़िता का परिवार इन आरोपियों में से एक को जानता था.

Also read:  बंगाल चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस के द‍िनेश त्रिवेदी ने राज्‍यसभा सांसद पद से द‍िया इस्‍तीफा

जेल में बंद संदीप ठाकुर ने हाथरस पुलिस को लिखी इस चिट्ठी में दावा किया है कि वो और पीड़िता ‘दोस्त’ थे. एक-दूसरे से कभी-कभी मिलने के अलावा वो कभी-कभार फोन पर भी बात करते थे. उसने बुधवार को यह चिट्ठी लिखी है. चिट्ठी हाथ से हिंदी में लिखी गई है. इस चिट्ठी पर चारों आरोपियों ने अंगूठे से स्याही लगाई है.

Also read:  रिहाना के ट्वीट के खिलाफ भारतीय सेलेब्रिटीज़ के ट्वीट्स की जांच करेगी महाराष्ट्र सरकार