English മലയാളം

Blog

Screenshot 2022-03-03 111846

पीएम मोदी ने कहा, ‘मेक इन इंडिया अभियान आज 21वीं सदी के भारत की आवश्यकता है और ये हमें दुनिया में अपना सामर्थ्य दिखाने का अवसर भी देता है।’

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘विश्व के लिए मे इन इंडिया‘ पर बजट के बाद आयोजित वेबिनार में हिस्सा लिया। यहां उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित भी किया। पीएम मोदी का कहना है कि आज दुनिया भारत को विनिर्माण शक्ति के रूप में देख रही है।

 

पीएम मोदी ने कहा‘मेक इन इंडिया अभियान आज 21वीं सदी के भारत की आवश्यकता है और ये हमें दुनिया में अपना सामर्थ्य दिखाने का अवसर भी देता है। जब इतने बड़े संकट सामने होते हैं और परिस्थितियां बदलती हैं तो मेक इन इंडिया की जरूरत पहले से ज़्यादा होती है। भारत जैसा विशाल देश सिर्फ एक बाजार बनकर रह जाए तो भारत  तो कभी प्रगति कर पाएगा और  ही हमारी युवा पीढ़ी को अवसर दे पाएगा। वैश्विक महामारी के दौर में हम ​देख रहे हैं कि विश्व में सप्लाई चेन किस तरह तहसनहस हुई है।

पीएम मोदी ने ये भी कहा कि हम इलेक्ट्रिक वाहनों, चिकित्सा उपकरणों में ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा दे सकते हैं। उद्योगों को अपने उत्पादों के विज्ञापनों में ‘वोकल फॉर लोकल’ और ‘मेक इन इंडिया’ के बारे में बात करनी चाहिए। कोयला, खनन और रक्षा क्षेत्रों को खोलने से अपार अवसरों के मार्ग प्रशस्त हुए हैं। निर्यात को प्रोत्साहित करने और ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देने के लिए एसईजेड कानून में सुधार किए गए।

Also read:  यूपी में 40 साल बाद सत्ताधारी पार्टी विधानपरिषद में होगा बहमत