English മലയാളം

Blog

नई दिल्ली:

तमिलनाडु की राजनीति में कदम रखने की बात कर हलचल मचाने वाले 70 साल के मेगास्टार रजनीकांत (Rajinikant) ने मंगलवार को घोषणा की है कि वो अपनी राजनैतिक पार्टी का ऐलान नहीं करेंगे. इसके पहले उन्होंने घोषणा की थी कि वो 31 दिसंबर को अपनी राजनैतिक पार्टी की घोषणा करेंगे.

रजनीकांत ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए मंगलवार को घोषणा की कि वो चुनावी राजनीति में शामिल नहीं होंगे. उन्होंने कहा है कि वो चुनावी राजनीति में शामिल हुए बिना ही जनसेवा करेंगे. उन्होंने एक बयान जारी कर कहा कि ‘मैं बहुत दुख के साथ कह रहा हूं कि मैं राजनीति में नहीं आ सकता. मुझे ही पता है कि यह घोषणा मैं कितने दुखी मन से कर रहा हूं. मेरे इस फैसले से मेरे फैंस और लोगों को निराशा होगी, लेकिन कृपया मुझे माफ कर दें.’

बता दें कि अभी पिछले हफ्ते ही उन्हें हाई ब्लड प्रेशर के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वो अपनी एक फिल्म की शूटिंग के लिए हैदराबाद में हैं, इसी दौरान शुक्रवार को उन्हें हाई बीपी की शिकायत हो गई थी, जिसके बाद उन्हें अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से रविवार को उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया.

Also read:  पश्चिम बंगाल: BJP के खिलाफ सियासी रण में उतरेंगे राकेश टिकैत, नहीं बनेंगे अन्य दलों के लिए 'राजनीतिक कंधा'

अस्पताल से आने के बाद उन्होंने चुनावी राजनीति में न आने की घोषणा की है, जबकि महीने की शुरुआत में उन्होंने कहा था कि वो 31 दिसंबर तक अपनी पार्टी की घोषणा करेंगे और इसे जनवरी में लॉन्च किया जाएगा. उनकी चुनावी राजनीतिक पारी की शुरुआत की संभावना ने तमिलनाडु की राजनीति में हलचल पैदा कर दी थी. इस बात के कयास लगाए जाने लगे थे कि अगर रजनी पॉलिटिक्स में आते हैं तो गठबंधन की क्या तस्वीर होगी? क्या वो किसी पार्टी का साथ चुनेंगे या नहीं?बता दें कि अप्रैल-मई तक तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव होने हैं.